RBI 500 Note: 500 रुपये के नोटों की बढ़ी डिमांड, RBI ने उठाया ये बड़ा कदम

currency, latest news, RBI,

आरबीआई (भारतीय रिजर्व बैंक) ने शुक्रवार को 2000 रुपए के नोट को वापस लेने की घोषणा की। केंद्रीय बैंक ने कहा कि जिन लोगों के पास 2000 रुपये के नोट हैं, उन्हें 30 सितंबर, 2023 तक बैंकों में जमा कर देना चाहिए। एक बार जमा होने के बाद, 2000 रुपये के नोट अब बाजार में चलन में नहीं आएंगे। नतीजतन, 500 रुपये का नोट देश में सबसे ज्यादा मूल्य का नोट बन जाएगा। इसी बीच 500 रुपये के नोट को लेकर एक नया अपडेट आया है।

बढ़ जाएगा 500 रुपए के नोट का सर्कुलेशन

2000 रुपये के नोट बंद होने से देश में 500 रुपये के नोटों का चलन काफी बढ़ गया। इससे भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के लिए नकली नोटों में वृद्धि की संभावना के बारे में चिंता बढ़ गई है। ऐसे में 500 रुपए के नोट को लेकर दो अपडेट सामने आए हैं। सर्वप्रथम प्रचलन में नोटों की बढ़ती मांग को पूरा करने के लिए छपाई को बढ़ाने की आवश्यकता। इसके अतिरिक्त, जालसाजी से निपटने के लिए असली और नकली मुद्रा के बीच अंतर करना महत्वपूर्ण होगा।

500 रुपये के नोट का बढ़ा प्रोडक्शन

रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) द्वारा 2000 रुपये के नोट को लेकर हाल ही में की गई घोषणा के बाद 500 रुपये के नोट की छपाई में तेजी आई है। देवास बैंक नोट प्रेस (BNP) ने अपने कर्मचारियों को 500 रुपए के नोटों की दैनिक प्रोडक्शन लिमिट बढ़ाने का निर्देश दिया है। नतीजतन, 22 मिलियन नोट (2.20 करोड़ नोट) अब हर दिन छापे जाएंगे।

इसके लिए कर्मचारियों को अब हर दिन 22 घंटे काम करना होगा, जिसमें वे 11-11 घंटे की दो शिफ्टों में काम करेंगे। यह बदलाव देवास प्रेस के कर्मचारियों के लिए नया है, जहां अब तक 9-9 घंटे की शिफ्ट होती थी।

Join Whatsapp