Tata Avinya को Jaguar Land Rover के इलेक्ट्रिक वाहन प्लेटफॉर्म पर बनाया जाएगा, जाने पूरी बात

Tata Avinya platform, Tata Avinya underpinnings, Tata Avinya Jaguar Land Rover platform, Tata Avinya Electric Modular Architecture, Tata Avinya EMA platform, Tata Avinya electric vehicle platform, Tata Avinya SUV platform, Tata Avinya born electric platform, Tata Avinya EV platform, Tata Avinya platform benefits, Tata Avinya platform features, Tata Avinya platform image,

अपने इलेक्ट्रिक वाहन (EV) पोर्टफोलियो के विकास में तेजी लाने के उद्देश्य से Tata Motors के EV व्यवसाय ने JLR, जिसे पहले Jaguar Land Rover के नाम से जाना जाता था, उसके साथ एक रणनीतिक साझेदारी में प्रवेश किया है।

इस साझेदारी के परिणामस्वरूप आगामी Tata Avinya EV 2025 में लॉन्च होगी, जिसे JLR के समर्पित इलेक्ट्रिक मॉड्यूलर आर्किटेक्चर (EMA) पर बनाया जाएगा। यह प्लेटफॉर्म JLR की आगामी इलेक्ट्रिक SUV में भी देखा जाएगा, जो 2025 तक आएगी।

E&E आर्किटेक्चर

Tata के अनुसार, इस व्यवस्था से हाई-एंड EV सेगमेंट में कंपनी के प्रवेश में तेजी आएगी, क्योंकि इससे वाहन विकास के समय के साथ-साथ लागत भी कम हो जाएगी। EMA में एक एकीकृत ड्राइव सिस्टम है जो रेंज और दक्षता को अधिकतम करने के लिए सेल-टू-पैक (सीटीपी) बैटरी तकनीक, बैटरी प्रबंधन और चार्जिंग सिस्टम को एकजुट करता है।

Tata का कहना है कि JLR का E&E आर्किटेक्चर लेवल 2 स्वायत्त ड्राइविंग क्षमताओं को सक्षम बनाता है, और ओवर-द-एयर सॉफ्टवेयर और फीचर अपडेट वाहन सुरक्षा और अल्ट्रा-फास्ट चार्जिंग प्रौद्योगिकियों में प्रगति में तेजी लाने में मदद करेंगे।

Gen 3 EV

Tata ने पहले पुष्टि की थी कि उसकी ‘Gen 3’ EV, जो अविन्या के साथ आनी शुरू होगी, इलेक्ट्रिक पावरट्रेन के लिए केवल हल्की सामग्री और संरचनाओं का उपयोग करेगी। उम्मीद है कि ये कारें एक बार फुल चार्ज होने पर कम से कम 500 किलोमीटर की दूरी तय करेंगी।

यह भी पुष्टि की गई है कि अविन्या अल्ट्रा-फास्ट चार्जिंग का समर्थन करता है, और जब पर्याप्त शक्तिशाली डीसी फास्ट-चार्जर से चार्ज किया जाता है, तो यह केवल 30 मिनट में 500 किमी की रेंज हासिल करने में सक्षम होगा।

यह Gen 2 Tata EV से एक स्पष्ट कदम आगे है, जो हेवी ड्यूटी (आईसीई) प्लेटफॉर्म पर आधारित होगा। Gen 2 Tata EV 2024 में लॉन्च होगी, कर्व कूप-SUV और हैरियर EV दोनों अगले साल आने की उम्मीद है।

Agratas Energy Storage

Tata ग्रुप का Agratas एनर्जी स्टोरेज सॉल्यूशंस अपने आगामी EV के लिए JLR को लिथियम-आयन सेल डिजाइन, विकसित, उत्पादन और आपूर्ति करेगा।

यह साझेदारी यूनाइटेड किंगडम में एक नई बैटरी सेल गीगाफैक्ट्री बनाने की Tata संस की प्रतिबद्धता (42,000 करोड़ रुपये से अधिक) के कुछ ही महीने बाद आई है, जिसमें JLR को इसके ‘एंकर’ ग्राहकों में से एक के रूप में पुष्टि की गई है। JLR अपने आगामी EV के लिए Tata समूह के Agratas एनर्जी स्टोरेज सॉल्यूशंस से बैटरी सेल प्राप्त करेगा।

साझेदारी के हिस्से के रूप में, एग्रेटस कच्चे माल की सुरक्षा के साथ-साथ लिथियम-आयन कोशिकाओं के डिजाइन और विकास और उनके परीक्षण और सत्यापन का काम संभालेगा।

JLR का पूर्ण परिवर्तन

JLR पूर्ण परिवर्तन के दौर में है क्योंकि यह वाहनों की पूरी तरह से इलेक्ट्रिक लाइन-अप तैयार कर रहा है। इसने कहा है कि वह EVs के निर्माण के लिए मर्सीसाइड में अपने हेलवुड प्लांट, यूके के वेस्ट मिडलैंड्स में सोलिहुल प्लांट के साथ-साथ स्लोवाकिया में अपने नाइट्रा प्लांट में अगले पांच वर्षों में 14,232 करोड़ रूपये से अधिक का निवेश करेगा।

वाहनों को विकसित करने के लिए व्हिटली इंजीनियरिंग सेंटर, कोवेंट्री, यूके में JLR फ्यूचर एनर्जी लैब में (2,542 करोड़ रूपये से अधिक) निवेश किया गया और यूके के सबसे बड़े दूसरे जीवन के साथ JLR के पहले EV में से एक को विकसित करने के लिए विक्स में इंजीनियरिंग में निवेश किया गया। Jaguar 4-Door GT, एक लैंड रोवर SUV, वर्तमान में 2024 की शुरुआत में पेश करने के लिए तैयार की जा रही है।

Join Whatsapp