Ola इलेक्ट्रिक ने EV कारोबार को बढ़ने के लिए 3,200 करोड़ रुपये जुटाए, जाने योजनाए

Ola इलेक्ट्रिक ने टेमासेक के नेतृत्व वाले प्रमुख निवेशकों और भारतीय स्टेट बैंक से प्रोजेक्ट फाइनेंस से सफलतापूर्वक 3,200 करोड़ रूपये की फंडिंग जुटाई है। Ola के ईवी व्यवसाय का विस्तार करने और तमिलनाडु के कृष्णागिरी में भारत का उद्घाटन लिथियम-आयन सेल उत्पादन संयंत्र स्थापित करने के लिए धन आवंटित किया जाएगा।

2-व्हीलर प्लांट

Ola इलेक्ट्रिक ने अपनी वृद्धि में तेजी लाने की योजना बनाई है। इसमें अपने 2-व्हीलर प्लांट की उत्पादन क्षमता बढ़ाना, इलेक्ट्रिक मोटरसाइकिल पेश करना और एक गीगाफैक्ट्री के निर्माण में तेजी लाना शामिल है।

इसके अतिरिक्त, Ola इलेक्ट्रिक को सरकार की सेल पीएलआई योजना से लाभान्वित होने वाली एकमात्र भारतीय ईवी कंपनी के रूप में चुना गया था, जो इसे अधिकतम 20 गीगावाट (गीगावाट घंटे) क्षमता का अधिकार देती थी। यह योजना भारत को ईवी के प्रमुख पहलुओं में आत्मनिर्भर बनाने में महत्वपूर्ण है।

तमिलनाडु फैक्ट्री

कंपनी तमिलनाडु के कृष्णागिरी में Ola की भविष्य की फैक्ट्री के पास लिथियम-आयन सेल उत्पादन संयंत्र बनाने की प्रक्रिया में है। भारत के लिए अद्वितीय, संयंत्र की शुरुआत में पहले चरण में 5 गीगावॉट की क्षमता होगी, जिसके आगे विस्तार के साथ 100 गीगावॉट की पूर्ण क्षमता तक पहुंचने की योजना है। कंपनी को अगले साल तक परिचालन शुरू करने की उम्मीद है। कृष्णागिरि में आगामी गीगाफैक्ट्री बड़े पैमाने पर कोशिकाओं के स्थानीय उत्पादन को सक्षम करेगी, जिससे भारत ऊर्जा स्वतंत्रता के एक कदम और करीब आ जाएगा।

नए इलेक्ट्रिक स्कूटर

हाल ही में, Ola इलेक्ट्रिक ने अपने स्कूटर पोर्टफोलियो में पांच मॉडल पेश किए, जिनकी कीमत 90,000 से 1.47 लाख रूपये तक है। ये मॉडल, अर्थात् S1 Pro, S1 Air, S1X+, S1X (3kWh), और S1X (2kWh), एक नए और उन्नत Gen-2 प्लेटफॉर्म पर आधारित हैं और पिछले महीने Ola के वार्षिक फ्लैगशिप इवेंट के दौरान पेश किए गए थे।

इसके अतिरिक्त, Ola इलेक्ट्रिक ने पहले अगले साल के अंत तक लॉन्च के लिए निर्धारित मोटरसाइकिल अवधारणाओं की एक लाइनअप पेश की थी। डायमंडहेड, एडवेंचर, रोडस्टर और क्रूज़र सहित इन मॉडलों को ग्राहकों की विविध प्राथमिकताओं को पूरा करने के लिए तैयार किया गया है।

Leave a Comment

Join Whatsapp